<
>

रेटिंग्स : वापसी मैच में जेमिमाह का परफ़ेक्ट टेन

Jemimah Rodrigues attempts a reverse sweep ACC

एशिया कप के अपने पहले मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका को आसानी से 41 रन से हरा दिया। भारतीय टीम की ओर से चोट के बाद वापसी कर रहीं जेमिमाह रॉड्रिग्स ने शानदार प्रदर्शन किया और 53 गेंद पर 76 रन की पारी खेल भारतीय टीम को 150 के एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। कप्तान हरमनप्रीत कौर ने भी उनका शानदार साथ देते हुए 30 गेंदों पर 33 रन बनाए। वहीं गेंदबाज़ी में दयालन हेमलता ने तीन और दीप्ति शर्मा व पूजा वस्त्रकर ने दो-दो विकेट लिए।

क्या सही, क्या ग़लत?

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी भारतीय टीम के लिए परिस्थितियां मुश्किल ज़रूर थी लेकिन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आपको ऐसी परिस्थितियों के लिए तैयार रहना होता है। लेकिन भारतीय सलामी बल्लेबाज़ शेफ़ाली वर्मा और स्मृति मांधना इसके लिए तैयार नहीं थीं। दोनों क्रमशः 10 और 6 के निजी स्कोर पर पवेलियन लौटीं। हालांकि इसके बाद से जेमिमाह और हरमनप्रीत ने भारतीय पारी को संभाला और सिर्फ़ 71 गेंदों में ही 92 रन जोड़े। गेंदबाज़ी में भारत की ओर से हेमलता, दीप्ति और वस्त्रकर ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। इसके अलावा भारतीय फ़ील्डिंग शानदार रही और उन्होंने दो रन आउट किए।

आइए देखते हैं इस जीत में भारतीय एकादश के प्रदर्शन पर किसको कितने अंक मिलते हैं।

प्लेयर रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)

स्मृति मांधना, 7.5: स्मृति ने दूसरे ओवर में ही चौका लगाकर अच्छे लय में होने के संकेत दिए थे लेकिन पारी की शुरूआत में ही एक बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में वह कैच आउट हो गईं। हालांकि वह फ़ील्डिंग में शानदार रहीं और एक रन आउट और एक कैच आउट करके उन्होंने अपने लिए कुछ महत्वपूर्ण अंक कमाए। भारतीय गेंदबाज़ी के दौरान नियमित कप्तान हरमनप्रीत की अनुपस्थिति में उन्होंने कप्तानी भी की और हेमलता की गेंदबाज़ी परिवर्तन का श्रेय और अतिरिक्त अंक उन्हें भी जाना चाहिए।

शेफ़ाली वर्मा, 4: इंग्लैंड सीरीज़ के बाद एशिया कप में भी शेफ़ाली का निराशजनक प्रदर्शन जारी है। आज भी वह सिर्फ़ 10 रन बनाकर फुलटॉस गेंद पर निराशाजनक तरीक़े से आउट हुईं।

जेमिमाह रॉड्रिग्स, 10: चोट के कारण इंग्लैंड दौरे पर नहीं जा सकीं जेमिमाह रॉड्रिग्स ने पहले ही मैच में प्रभावित किया। उन्होंने क्रीज़ से आगे निकल-निकलकर कुछ बेहतरीन ड्राइव लगाए और लगा ही नहीं कि वह चोट से वापसी कर रही हैं। जेमिमाह की इस पारी में 11 शानदार चौके और एक गगनचुंबी छक्का शामिल था। वह आज परफ़ेक्ट टेन की पूरी हक़दार हैं।

हरमनप्रीत कौर, 9: जब भारतीय टीम चार ओवरों में सिर्फ़ 23 रन पर दो विकेट खोकर संघर्ष कर रही थी तो कप्तान हरमनप्रीत ने जेमिमाह का बेहतरीन शॉट दिया। उन्होंने पारी को एंकर करते हुए 30 गेंदों में 33 रन की पारी खेली, जिसमें दो चौके और एक छक्का शामिल था।

दयालन हेमलता, 9: हरमनप्रीत के आउट होने के बाद जब दयालन हेमलता क्रीज़ पर आईं तो चार ओवर बचे थे। ऐसे में वह बहुत कुछ कर सकती थीं। लेकिन उनके आने पर एक छोर से फिर से विकेटों के गिरने का सिलसिला शुरू हो गया और वह सिर्फ़ 10 गेंद ही खेल पाईं। इन 10 गेंदों में उन्होंने एक बाउंड्री की मदद से 13 रन बनाए। इसके अलावा उन्होंने 2.2 ओवर गेंदबाज़ी की, जिसमें उन्हें तीन सफलताएं हासिल हुई।

ऋचा घोष, 6 : ऋचा घोष को भारतीय बल्लेबाज़ी के प्रतिभाशाली भविष्य का एक शानदार हिस्सा माना जाता रहा है लेकिन वह अभी तक अपनी प्रतिभा के साथ न्याय नहीं कर पाई हैं। हालांकि आज जब वह बल्लेबाज़ी के लिए आईं तो पारी में बस 14 गेंदें बची थीं। उन्होंने उसमें से छह गेंदें खेलीं और एक छक्के की मदद से नौ रन बनाए। उन्हें इस पारी को समाप्त भी करना चाहिए था लेकिन वह 19वें ओवर में पगबाधा आउट हो गईं।

पूजा वस्त्रकर, 9: पूजा वस्त्रकर आज गेंदबाज़ी में शानदार दिखीं और उन्होंने नीलाक्षी डिसिल्वा और कविशा दिलहारी जैसे मध्यक्रम के बल्लेबाज़ों के विकेट चटकाए। इसके अलावा वह आज अपने स्वभाव के विपरीत काफ़ी क़िफ़ायती भी साबित हुईं।

दीप्ति शर्मा, 9: दीप्ति शर्मा भारतीय टीम के लिए लगातार उपयोगी साबित होती रही हैं। आज जब उन्हें बल्लेबाज़ी में मौक़ा नहीं मिला तो गेंदबाज़ी में हाथ दिखाते हुए दो विकेट लिए, जिसमें विपक्षी कप्तान चमारी अट्टापट्टू का महत्वपूर्ण विकेट शामिल है। इसके अलावा उन्होंने सीधे थ्रो से एक रनआउट भी कराया।

स्नेह राणा, 7: ऑलराउंडर स्नेह राणा को बल्लेबाज़ी में मौक़ा नहीं मिला, जबकि उन्होंने गेंदबाज़ी में निराश किया। उन्होंने चार ओवर में 28 रन दिए और उन्हें एक भी विकेट हासिल नहीं हुआ। हालांकि उन्होंने डीपमिडविकेट पर ओशादी रनासिंघे का एक अच्छा कैच ज़रूर लपका।

रेणुका सिंह, 6: पिछले कुछ मैचों में अच्छा फ़ॉर्म दिखाने के बाद रेणुका सिंह ने निराश किया। उन्होंने अपने पहले ही ओवर में तीन चौकों सहित 13 रन दे दिए, इसके बाद जब पारी के बीच में आईं तब भी उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। दो ओवर में 20 रन देकर वह भारतीय गेंदबाज़ों में सबसे महंगी साबित हुईं।

राधा यादव, 7.5: राधा यादव बेहतरीन गेंदबाज़ हैं लेकिन पिछले कुछ समय में वह अपनी प्रतिभा के साथ न्याय नहीं कर पाई हैं। जहां अन्य भारतीय स्पिनरों ने आज गुच्छों में विकेट चटकाए, वहीं राधा को तीन ओवरों में सिर्फ़ एक ही विकेट मिल सका। हालांकि इस दौरान उन्होंने सिर्फ़ 15 रन दिए और हसिनी परेरा का प्वाइंट पर एक महत्वपूर्ण कैच भी लपका।